ओमेगा-3 रखे जवान व बढाये उम्र Omega 3 Foods in Hindi Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi ओमेगा-3 रखे जवान व बढाये उम्र Omega 3 Foods in Hindi - Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi

ओमेगा-3 रखे जवान व बढाये उम्र Omega 3 Foods in Hindi

आमेगा-3 स्वास्थ्यवर्धक रिच ओमेगा-3 पोषक तत्व वाले खाद्यपदार्थों को पहचानना जरूरी है। शोध में पाया गया है कि ओमेगा-3 खाद्यपदार्थ शरीर को सदाबहार जवान और रोगमुक्त बनाये रखने में सहायक है। आमेगा-3 के बारे में चिकित्सक, स्वास्थ्य सलाहकार अकसर राय देते रहते हैं, पोष्टिक व सन्तुलित आहार लें। जिसमें आमेगा-3 प्रचुर मात्रा में हो, यह सत्य है। आमेगा-3 कैप्सूल, तेल, बीज, मछली, अण्डा, खाद्यपदार्थ लेना स्वास्थ्य के लिए अति लाभकारी होता है।

ओमेगा-3 रखे जवान व बढाये उम्र / आमेगा-3 खाद्य पदार्थ / Omega 3 Foods in Hindi / Omega 3 Khadya Padarth

ओमेगा-3 रखे जवान व बढाये उम्र ,Omega 3 Foods in Hindi, Omega 3 Foods kya hai, Omega-3 fatty acids - ओमेगा-3 फैटी एसिड. Omega3  Foods list hindi, ओमेगा 3 फैटी एसिड भरपूर  खाद्य पदार्थ, omega3 foods khadya padarth, ओमेगा-3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थ

आमेगा-3 शरीर में फैटी एसिड के निर्माण के लिए अति उत्तम फायदेमंद है। शरीर फैटी ऐसिड़ नहीं बना सकता। परन्तु आमेगा-3 वाले पोषक खाद्य तत्वों के सेवन से आमेगा-3 की पूर्ति शरीर में आसानी से कर सकते हैं। आमेगा-3 फैटी ऐसिड हार्ट, किडनी, महिलाओं मासिक चक्र में दर्द कम करने, लीवर को स्वस्थ व सुचारू रखने में और रक्त संचार सुचारू बनाये रखने में कारगर है। साथ में आंखों की नजर को कम होने से बचाना, कैंसर से बचाने में, शरीर को ऊर्जावान बनाने में शरीर को रोगों से बचाने में रक्षाकवच बनाये रखने में आमेगा-3 की अहम भूमिका है।

अखरोट

अखरोट में आमेगा-3, विटामिन, प्रोटीन, फास्फोरस मैंगनीज, काॅपर, डायरी फाइबर पोषक तत्व प्रयाप्त मात्रा में पाये जाते हैं। अखरोट को किसी न किसी तरह से जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। अखरोट में आमेगा-3 का रिच स्रोत है।

सोयाबीन

सोयाबीन में आमेगा-3, प्रोटीन, फाइबर, लेसीथिन, काबरेहाइडरेटस, आसोफलेवोन्स, माइक्रोन्यटरेटस जैसे पौषक तत्व पाये जाते हैं। सोयाबीन पाउडर, व सोयाबीन खाद्य डेयरी प्रोडक्स दूध के साथ लेने से और भी ज्यादा पावरफुर हो जाता है। दूध में कैल्शियम होता है।

कद्दू बीज

कद्दू बीज में आमेगा-3 पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। कद्दू के बीज को फेके नहीं उन्हें धूप में सुखा कर छील कर खाना चाहिए। कद्दू बीज आमेगा-3 का बड़ा श्रोत माना जाता है।

मछली

सालमन, झींगा, टूना, सार्डिन मछली प्रजातियां आमेगा-3 बड़ा भण्डार है। और मछली में विटामिन डी, विटामिन बी-12, नीयासिन विटामिन बी-6 प्रोषक तत्व प्रर्याप्त हैं, सालमन मछली को ज्याद पका कर न खायें, स्टीम व रोस्ट करने से ज्यादा विटामिनस व मिनरल प्राप्त किये जा सकते हैं, सालमन हार्ट, किडनी, लीवर की समस्याओं का अच्छा समाधन है।

बेरी

बेरी में आमेगा-3 के साथ साथ विटामिन्स, एन्टीआक्सीडेन्टस, मिनरल बड़ा माध्यम माना जाता है। बेरी जरूर खानी चाहिए।

बीन्स

बीन्स में आमेगा-3 व आमेगा-6 दोनों प्रर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं। जिससे शरीर को फैटी पोलीअनसैचुरेटेड पौषक पाप्त होता है, जोकि शरीर के लिए फायदेमेंद है।

तेल

राई के तेल में आमेगा-3 और आमेगा-6 दोनो मौजूद होते हैं जोकि सैन्चुरेटेड फैट को शरीर से हटाने में मद्द करता है। इसी प्रकार से राई, अलसी, सोयाबीन, बादाम, अखरोट, कैनोला का तेल में आमेगा-3, प्रोटीन, फाइबर की मात्रा अधिक पाई जाती है।

सी-फूड

सीफूड खाने से आमेगा-3 प्रर्याप्त मात्रा में मिलता है। सीफूड में सीप, र्पान, खास मछलियां और पानी में पनपने वाली कुछ वनस्पति भी शामिल है। सीफूड खाने से आमेगा-3 प्रोटीन व फाइबर और विटामिनस मिनरलस प्रचुर मात्रा में शरीर को मिल जाते हैं।

अण्डा

अण्डे की जर्दी में ओमेगा-3 भरपूर मात्रा में मौजूद है। अण्डा ओमेगा 3 के साथ रिच प्रोटीन का श्रोत है।

बीज

मूंगफली, सूरजमुर्खी बीज, अलसी बीज, हेम्प बीज (देशी भांग बीज), चाइना सीड, आदि तिलहन बीजों में ओमगा3 रिच मात्रा में मौजूद है। बीजों के तेल और बीज दोनो इस्तेमाल ओमगा3 पौषण की पूर्ति आसानी कर देती है।


आमेगा-3 वाले पौषक खाद्य पदार्थों को अपने दैनिक दिनचर्या में शामिल करें। आमेगा-3 त्वचा, रक्त संचार, बालों, आन्तरिक प्रणाली हार्ट, लीवर, पाचन तन्त्र व हड्डियों के लिए अति उत्तम व फायदेमंद माने जाते हैं। इसलिए आमेगा-3 खाद्य पदार्थों का सेवन जरूरी है। ओमेगा 3 की गोलियां भी बाजार में बड़े आसानी से मिल जाती हैं। ओमेगा 3 भी इस्तेमाल कर सकते हैं।