तेजाब एसिड असर तुरन्त रोके गाय का दूध Acid Burn Treatment by Milk in Hindi Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi तेजाब एसिड असर तुरन्त रोके गाय का दूध Acid Burn Treatment by Milk in Hindi - Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi

तेजाब एसिड असर तुरन्त रोके गाय का दूध Acid Burn Treatment by Milk in Hindi

तेजाब एसिड बेचना और खरीदना पर प्रतिबन्ध है। तेजाब एसिड हानिकारक है। जिसका इस्तेमाल लोग गलत कामों करते हैं। और खामिजा शरीर के अंगों को भुगदना पड़ता है। तेजाब एसिड पर पूर्ण रूप से प्रतिबन्ध लगना चाहिए।
गई बार गलती से तेजाब एसिड छीटें गिरने पर तुरन्त अस्पताल ले जायें। अगर उपचार तुरन्त सम्भव नहीं है तो घरेलू तरीका पहनायें। इससे त्वचा जल्दी खराब नहीं होगी और कफी हद तक त्वचा को एसिड छीटों नुकसान से बचाया जा सकते हैं। तेजाब एसिड जली गंभीर स्थिति में तुरन्त अस्पताल लें जायें। 


तेजाब-एसिड-असर-तुरन्त-रोके-गाय-का-दूध ,ACID-BURN-TREATMENT-BY-MILK-IN-HINDI,jAcid-Burn-Treatment-by-Milk-in-Hindi, tezaab-se-twacha- jalne- per-ila,

जली त्वचा के लिए गाय का दूध अचूक दवा / Acid Burn Treatment by Milk


गाय के दूध को बिना कुछ मिलाये तुरन्त एसिड़ छीटें से ग्रसित जगह पर डालते रहें। तब तक लगातार दूध एसिड जगह पर डालते रहें, जब तक त्वचा पहले जैसी नहीं हो जाती। तेजाब त्वचा को सड़ा जला देता है। दूध तेजाब एसिड के असर को नष्ट करने में सक्षम है। यह अचूक तरीका है, याद रखें तेजाब एसिड के छींटे गलती से भी शरीर पर पड सकते हैं। उस समय तुरन्त तेजाब असर निष्क्रीय करने के लिए दूध इस्तेमाल करने से जलन असर कम करने में दूध सहायक है। त्वचा खराब होने से बच जाती है। तुरन्त अस्पताल जरूर ले जायें।

नोटः यह केवल एक आपातकालीत स्थिति के लिए घरेलू उपचार है, जब चिकित्सक, इलाज तुरन्त सम्भव नहीं है। गम्भींर स्थिति में तुरन्त अस्पताल उपचार के लिए ले जायें। त्वचा इंसान की सबसे खूबसूरत लुक है। जीवन अनमोल है।