त्वचा से चर्म दूर करने का आर्युवेदिक तरीका Skin Allergy Treatment in Hindi Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi त्वचा से चर्म दूर करने का आर्युवेदिक तरीका Skin Allergy Treatment in Hindi - Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi

त्वचा से चर्म दूर करने का आर्युवेदिक तरीका Skin Allergy Treatment in Hindi

चर्म रोग दूर करने के आर्युवेदिक तरीके 
  • चर्म रोग में गेंदा का लाल और पीला फूल को बारीक पीसकर लेप ग्रसित त्वचा पर लगाने से तुरन्त ठीक हो जाती है। गेंदे फूल में एंटीबैक्टीरियल और एंटीबायरल गुण मौजूद होते हैं।
  • अलसी का बीज बारीक पीसकर लगाने से चर्म रोग ठीक हो जाता है। असली बीज में ओमेगा3 और फैटी ऐसिड औषधीय गुण मौजूद होते हैं।

  • त्वचा में चक्टे, चैडे़ लाल स्पाट होने पर तुरन्त गाय का घी और तुलसी पत्तों का रस मिलाकर लगायें। त्वचा विकारों के लिए तुलसी रस और गाय का घी रामबाण दवा है।
  • चर्म रोग में कच्चा पपीता सलाद में और पक्का पपीता रोज सुबह उठ कर खाने से चर्म रोग धीरे धीरे कम हो जाता है। पपीता में विटामिन ए प्रचुर मात्रा में मौजूद होती है। पपीता त्वचा को चर्म रोग से निरोग करने में सक्षम है।
Skin- Allergy- Treatment- in- Hindi, skin-allergy-in-hindi, allergy-upchar, skin- allergy- ke- upay, स्किन - एलर्जी
  • नींम के हरे पत्तों का रस, चंदन पाउडर, चिरायता तीेनों का लेप लगाने से चर्म रोग ठीक हो जाता है।
  • त्वचा पर खाज, खुजली, दाद होने पर दालचीनी को पीसकर शहद के साथ लगाने से जल्दी ग्रसित त्वचा ठीक हो जाती है।

  • त्वचा पर कीड़ा कटे, त्वचा जलने पर ग्रसित जगह घाव पर शुद्व शहद लगायें। शहद प्राकृतिक एन्टीबायोटिक है। शहद तुरन्त ग्रसित जगह को जल्दी कर देता है। मोना कीट के काटने पर सबसे पहले बारीक सुई की तरह काला कीट सेल्स त्वचा से निकालें। फिर मिट्टी तेल त्वचा पर रगड़ने से सूजन तुरन्त हट जाता है। और साथ में थोड़ी सी दही हल्दी लेप करें। इससे कीट के काटने से होने वाले सूजन, खुजर्ली, दर्द, जलन तुरन्त आराम मिलता है।

  • अजाइन का पाउडर गर्म पानी के साथ मिलाकर लेप ग्रसित त्वचा पर लगाने से चर्म रोग ठीक हो जाता है।
  • खुजली संक्रामण दूर करने के लिए नींम हरे पत्ते, हल्दी, देशी घी के साथ मिलाकर एलर्जी त्वचा पर लगायें। और नींम पत्तियां उबले पानी से नहायें।
  • खुजली महसूस होने पर खुजली नहीं करें। खुजली करने से त्वचा संक्रामण और ज्यादा बढ़ जाता है।
  • दाद, खाज, खुजली स्किन समस्याओं के दौरान अण्डा, मछली, मीट नाॅनवेज सेवन से परहेज करें। नाॅनवेज खाने से स्किन समस्याऐं ज्यादा दिनों तक संक्रमित रहती हैं।