प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट का जादुई असर Natural Antioxidants in Hindi Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट का जादुई असर Natural Antioxidants in Hindi - Health Tips in Hindi, Protected Health Information, Ayurveda Health Articles, Health News in Hindi

प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट का जादुई असर Natural Antioxidants in Hindi


स्वास्थ्य का राज प्रकृति में छिपा है। हर बीमारियों विकारों का समाधान आर्युवेदिक तरीकों से जड़ से नष्ट किया जा सकता है। हर रोज आर्युवेद पर नये नये शोध हो रहे हैं, विज्ञान आर्युवेद की तरफ अग्रसर हो रहा है। शोध में पाया गया है कि हरा धनिया पत्तियां का रस और नींबू मिलाकर सेवन किया जाय तो मोटापा, हाईब्लडप्रेशर, मूत्र रोग, कैंसर, किड़नी, गुर्दे, संक्रामण बीमारियों में फायदेमंद असरदार औषधि रस है।

प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट का जादुई असर / प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट / Rich Antioxidants / Natural Antioxidants in Hindi / High Antioxidant Juice / Antioxidant Kya Hai


प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट का जादुई असर , Natural Antioxidants in Hindi, एंटीऑक्सीडेंट युक्त आहार, Rich Antioxidants, प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट, These Antioxidants Protect Against Diseases, antioxidant kya hai

प्राकृतिक विटामिन सी, डी, सोडियम, पोटाशियम, बीटा कैरोटीन, क्लोरोफाईल, एन्टीआक्सीडेंट ।

हरी धनिया पत्तियां सेवन

हरी धनिया पत्तियों में बीटा केरोटीन, विटामिन सी, क्लोरोफाईल, पोटाशियम और एन्टीआक्सीडेंट गुण प्रचुर मात्रा में मौजूद हैं। जोकि शरीर के मृत कोशिकाओं को पुनः जीवित करने में सक्षम है। हरा धनिया पत्तियों का सेवन खाने, सब्जीयों, दालों, सलाद, चटनी और रस आदि तरह से जरूर इस्तेमाल सेवन करना चाहिए। शोध में धनिया रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने वाला फायदेमंद स्वास्थ्यवर्धक माना गया है।

स्वास्थ्यवर्धक नींबू

नींबू खाने में स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक है। शोध में पाया गया है कि नींबू में पाये जाने वाले तत्व विटामिन सी, विटामिन बी, सोडियम, पोटाशियम पाचन से लेकर किड़नी फिल्टर में सहायक, पेट आंतों में जर्मी फालतू चर्बी और विषेले पदार्थों पदार्थों को बाहर निकालने में सहायक है।

हरी धनिया पत्तियां का रस और नींबू रस मिश्रण सेवन

सप्ताह में 2-3 बार धनियां पत्तियों और नींबू रस का मिश्रण रस जरूर सेवन करना चाहिए। यह प्राकृतिक आर्युवेदिक मिश्रण स्वस्थ्य व्यक्ति को भी अवश्य सेवन करना चाहिए। यह अमृत रस शरीर में होने वाले बीमारियों, विकारों, संक्रामण को तुरन्त नष्ट कर देता है। शरीर में विटामिनस और मिनरलस की पूर्ति भी आसानी से हो जाती है।
मोटापा से ग्रसित व्यक्ति को सुबह खाली पेट और रात को सोने से 10 मिनट पहले खास आर्युवेदिक रस सेवन करना चाहिए। लगातार 15 - 20 दिनों तक सेवन करने से मोटापा तेजी से घटता है। बाजारा में इस तरह के जूस मौजूद हैं। परन्तु वे असुरक्षित और डिब्बा बंद हैं। डिब्बा बंद वेट लाॅस प्रोडक्स से सैकड़ों गुना ज्यादा सुरक्षित और सस्ता घर पर अपने हाथों का बनाया गया आर्युवेदिक अमृत पेय है। वजन घटाने के साथ-साथ सैकड़ों तरह की बीमारियों विकारों को जड़ से मिटाने में यह खास हरी धनिया पत्तों का रस और नींबू रस मिश्रण सेवन खास सक्षम है।

गेहूं के पत्तों का रस

हरी गेहूं के पत्तों का रस संक्रमण वायरल गम्भीर बीमारियों को नष्ट करने में सक्षम हैं। कैंसर, लिवर, दिल, वी.पी. नसों के ब्लाॅकेज जैसी गम्भीर विकारों में गेहूं की ताजी हरी पत्तियों का रस सेवन करना फायदेमंद है।

चुकंदर टमाटर

चुकंदर चमाटर एंटीऑक्सीडेंट युक्त पौषण हैं। चुकंदर सलाद, टमाटर सलाद या फिर चुकंदर जूस, टमाटर जूस डाईट में अवश्य शामिल करना चाहिए। चुकंदर और टमाटर रिच प्राकृतिक एन्टीआक्सीडेंट स्रोत हैं।